Friday, 7 October 2022

नीम सिर्फ हमारी त्वचा के लिए नहीं बल्कि पेट के लिए भी बहुत फायदेमंद माना जाता है इसके बारे में रोचक बातें जानिए

अगर आप खाली पेट नीम की पत्तियों का सेवन करते हैं तो या फिर इन्हें पानी में उबाल कर नमक के साथ खाते हैं तो आपको अपने शरीर से इन बीमारियों को करने में मदद मिल सकती है । भारत को आयुर्वेद की सरजमीं कहा जाता है और यहां पाई जाने वाले ढेर सारी जड़ी - बूटियां किसी न किसी रोग में काम जरूर आती है । 

इन जड़ी - बूटियों में हमारे आस - पास मौजूद ऐसे ढेर सारे पेड़ - पौधे पाए जाते हैं , जिनके बारे में आप सोच भी नहीं सकते हैं । इन्हीं में एक है नीम , जो भारत के हर हिस्से में पाया जाता है । इस पेड़ की पत्तियों से लेकर टहनियां भी हमारे बड़े काम आ सकती है । 

नीम


नीम का पेड़ यूं तो अपने ढेर सारे लाभ के लिए जाना जाता है और इसका औषधीय उपयोग लगभग हजारों वर्षों से होता आ रहा है । यही कारण है कि संयुक्त राष्ट्र नीम के पेड़ को " 21 वीं सदी का वृक्ष " घोषित कर चुका है । आप शायद इस बारे में जानते हों लेकिन बता दें कि नीम की पत्तियों का सेवन शरीर की अनेक बीमारियों को दूर कर सकता है । 

जी हां , अगर आप खाली पेट नीम की पत्तियों का सेवन करते हैं तो या फिर इन्हें पानी उबाल कर नमक के साथ खाते हैं तो आपको अपने शरीर से इन बीमारियों को करने में मदद मिल सकती है । आइए जानते हैं कौन सी हैं ये बीमारियां ।


नीम के 10 फायदे


ब्लड शुगर करे कंट्रोल 

खराब जीवनशैली के कारण भारत में लगातार डायबिटीज के मरीजों की संख्या बढ़ रही है । हालांकि लोग अभी भी घरेलू नुस्खों पर विश्वास करते हैं । इन्हीं घरेलू नुस्खों में से एक है नीम के पत्तों को सुबह खाली पेट चबाना । ऐसा करने से ब्लड शुगर को कंट्रोलकरने में मदद तो मिलेगी ही साथ ही आपका खून भी साफ होगा । एक्सपर्ट बताते हैं कि नीम के पत्तों में azadirachtolide नाम का तत्व होता है , जो ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में प्रभावी होता है । 


कई संक्रमण को रखता है दूर 

जी हां , नीम का उपयोग एक एंटी बायोटिक के रूप में भी किया जाता है , जो सामान्य प्रकार के संक्रमण को रोकने में उपयुक्त होता है । सुबह नियमित रूप से नीम की पत्तियां चबाने पर आपको मूत्रमार्ग और आंखों के संक्रमण में काफी फायदा मिलता है । इतना ही नहीं नीम पित्त और कफ को कम करने का भी काम करता है । नीम की ब्लड प्यूरीफायर , एंटी बैक्टीरियल , एंटी ऑक्सीडेंट खूबियां इसे एक्जिमा , सोरायसिस जैसे अनेक त्वचा विकारों में फायदेमंद बनाती है । 


पेट के लिए लाभदायक 

नीम सिर्फ हमारी त्वचा के लिए नहीं बल्कि पेट के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है । इसमें मौजूद पित्तनाशक गुण एसिडिटी में बेहद उपयोगी होते हैं और आप सुबह खाली पेट पानी में नीम की पत्तियां उबालकर पीने से कब्ज , पेट दर्द , आंतो में मौजूद कीड़ों को बाहर निकालने में मदद मिलती है ।


बुख़ार को करे कम 

मानसून हो या उसके बाद फैलने वाले डेंगू , मलेरिया नीम के पत्ते सभी में बहुत फायदेमंद माने जाते हैं । इन दोनों स्वास्थ्य स्थितियों में बुखार आता है और नीम बुखार को कम करने की अच्छी दवा है । इसकी पत्तियों में स्थित गेंडनिन नाम का यौगिक मलेरिया के तेज बुखार को कम करने में कारगर साबित हुआ है । 


इम्यूनिटी बढ़ाने में फायदेमंद 

सुबह उठकर खाली पेट नीम की पत्तियां चबाने से आपके शरीर को प्राकृतिक गुण प्राप्त होते हैं , जो शरीर में पहुंचकर रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने का काम करते हैं । अगर आप नियमित रूप से नीम की पत्तियां चबाकर पानी पीते हैं या फिर पानी में उबालकर पत्तियों का सेवन करते हैं तो आपको प्राकृतिक इम्यून बूस्टर प्राप्त होता है ।

No comments:

Post a Comment

Comments System

Disqus Shortname

Powered by Blogger.